गुरुर्ब्रह्मा गुरुर्विष्णुः गुरुर्देवो महेश्वरः ।

गुरुः साक्षात् परं ब्रह्म तस्मै श्री गुरुवे नमः ।।

अर्थ:गुरु ब्रह्मा है, गुरु विष्णु है, और गुरु ही भगवान शंकर है। गुरु हि साक्षात् परब्रह्म है. उन सद्गुरु को प्रणाम करता हूँ।

नमस्कार दोस्तों आप सभी का स्वागत है।

सभी के जीवन में शिक्षक का एक बहुत बड़ा योगदान होता है ।एक अध्यापक का पद काफी ज्यादा सम्माननीय पद होता है।

क्या आपका सपना भी एक अध्यापक बनने का है? क्या आपको दूसरों को सिखाना पसंद है?

आज के लेख में हम बात करेंगे अध्यापक कैसे बने?

अध्यापक कैसे बनने से पहले हम जानते हैं कि अध्यापक कितने प्रकार के होते हैं। यह जरूर बताइए कि आप कौन से अध्यापक बनना चाहते हैं।

अध्यापक के प्रकार

प्री प्राइमरी टीचर टीचर बनने के लिए आप पोस्ट ग्रेजुएट या अंडर ग्रेजुएट में से किसी भी एक कोर्स को कर सकते हैं

प्री प्राइमरी स्कूल टीचर छात्रों के जीवन में एक अहम भूमिका निभाता है क्योंकि वे अपने माता-पिता के बाद पहले व्यक्ति होते हैं जिनसे वह सीखते हैं।

यह अध्यापक 3 से 5 साल के छात्रों को शिक्षा प्रदान करते हैं।

इन छात्रों की मदद से हम किसी भी भाषा के पहले अक्षरों को पहचान पाते हैं।

प्राइमरी स्कूल टीचर

प्राइमरी स्कूल टीचर यह यह शिक्षक कक्षा 1 से लेकर कक्षा 5 तक के छात्रों के साथ व्यवहार करते हैं। इसी के अंतर्गत हमारे व्यवहार को श्लोक और कंप्यूटर जीवन चीजों से परिचय करवाया जाता है। इसी के साथ यह अध्यापक छात्रों की नीव विकसित करते हैं।

सेकेंडरी स्कूल टीचर

यह अध्यापक सामान्यतः कक्षा 6 से लेकर 10 तक के छात्रों के साथ व्यवहार करते हैं। अध्यापक छात्रों के अंदर ज्ञान का निर्माण और उन्हें उनके सपनों और जुनून को साकार करने के लिए जिम्मेदार।

सीनियर सेकेंडरी स्कूल टीचर

यह अध्यापक कक्षा 11वीं और 12वीं को पढ़ाते हैं। अध्यापक एक विशेष विषय में निपुण होते हैं।

स्पेशल एजुकेटर

स्पेशल एजुकेटर शिक्षक व शिक्षक होते हैं जो मानसिक स्वास्थ्य शारीरिक भावनात्मक सिखाने की क्षमता आदि वाले विकलांग छात्रों के साथ व्यवहार करते हैं।

यह जरूर बताइए कि आप कौन से अध्यापक बनना चाहते हैं।

अच्छे शिक्षक की विशेषताएं

आप सभी ने भी यह फिल्म जरूर ही किया होगा कि कुछ अध्यापक अच्छे शिक्षक होते हैं।

चलिए जानते हैं कुछ अच्छे शिक्षक की मुख्य विशेषताएं

  • अच्छे शिक्षक मजबूत संचालक होते हैं।
  • अच्छे शिक्षक अनुकूल नियम होते हैं
  • अच्छे शिक्षक अच्छा सुनते हैं
  • उनमें धैर्य की कोई कमी नहीं होती है।
  • वे शिक्षक सहानुभूति दिखाते हैं।

अध्यापक कैसे बने?

चलिए जानते हैं कि एक अध्यापक बनने के लिए आपको क्या क्या कदम उठाने होंगे।

सबसे पहले यह तय करना कि आप टीचर बनेंगे या नहीं बने क्योंकि टीचिंग काफी अच्छा पद माना जाता है। टीचर बनने के लिए पेशेंट्स धैर्य का होना काफी ज्यादा महत्वपूर्ण होता है।

जब आपने यह निर्धारित कर लिया है कि आप टीचर ही बनेंगे इसके बाद आप यह तय कीजिए कि आप किस सब्जेक्ट में टीचर बनना चाहेंगे।

पारित करने के बाद आप प्रवेश परीक्षा की तैयारी कीजिए या फिर कोई एक ग्रैजुएट डिग्री प्राप्त कीजिए। डिग्री प्राप्त करने के बाद आप चाहे तो आगे की पढ़ाई या फिर आप प्रवेश परीक्षा दे सकते हैं और उस प्रवेश परीक्षा में पास होने के बाद आप अध्यापक बन जाते हैं।

टीचर बनने के लिए कोर्स

टीचर बनने के लिए स्टूडेंट्स को बीएड करना जरूरी होता है।

टीचर बनने के लिए ग्रैजुएट कोर्स या पोस्ट ग्रैजुएट दोनों के बाद ही अध्यापक बनने के लायक हो जाते हैं। तो अब सवाल यह उठता है कि ऐसी कौन सी कोर्स है जिनकी वर्क करने के बाद आप अध्यापक बन सकते हैं।

तो चलिए मैं आपको कुछ वर्षों के नाम बताता हूं जिनको करने के बाद आप एक अध्यापक बन सकते हैं।

सरकारी विद्यालय महाविद्यालय में प्रोफेसर या फिर अध्यापक के लिए आपको प्रवेश परीक्षा का पास करना जरूरी होता है।

Entrance Exams

भारत में अध्यापक बनने के लिए आपको निम्नलिखित प्रवेश परीक्षाएं होती हैं।

टीचर बनने के फायदे

यदि आपकी दिलचस्पी उम्मीदवारों को प्रेरित करना और दूसरों के कैरियर का निर्माण करना है तो शिक्षण एक अच्छा विकल्प होगा। जैसा कि हम सभी के जिंदगी में सबसे बड़ा रोल एक अध्यापक का होता है।

  • यह छात्रों को प्रेरित करने और विशेष विषय में रुचि विकसित करने की अनुमति देता है।
  • एक शिक्षक आने वाली पीढ़ी को आकार देता है।
  • शिक्षक की नौकरी में स्थिरता होती है।

टीचर सैलेरी

एक सरकारी स्कूल के शिक्षकों का वेतन निजी स्कूलों की तुलना में बहुत अधिक होता है।

सरकारी स्कूल शिक्षक

सामान्यतः एक सरकारी स्कूल शिक्षक का वेतन 3.5 से 4 लाख रुपए तक होता है।

निधि स्कूल शिक्षक

सामान्यता एक निजी स्कूल के शिक्षक का वेतन 2 से 3.5 लाख रुपए तक होता है।

निष्कर्ष

इस लेख में हमने जाना कि आप अध्यापक कैसे बन सकते हैं।

एक अच्छे अध्यापक की क्या विशेषताएं होती हैं अध्यापक कितने प्रकार के होते हैं। अध्यापक बनने के बाद आपकी सैलरी कितनी होगी। पक बनने के लिए आपको कौन सी प्रवेश परीक्षाएं देनी होती है, कौन से कोर्स करने होते हैं ऐसे कई सवाल के जवाब हमने इस लेख में जाने।

आशा करता हूं कि आपको यह लेख पसंद आया होगा।

धन्यवाद

टीचर कैसे बने – FAQs

Q. एक अनुभवी अध्यापक को कितनी तनखा मिलती है

यह शिक्षक के अनुभव के आधार पर निर्भर करता है।
एक अनुभवी शिक्षक को 8 लाख प्रति वर्ष तक नियमित वेतन या इससे ज्यादा भी हो सकता है।

Q. अध्यापक बनने के लिए क्या B.Ed कोर्स जरूरी है।

जी हां। टीचर बनने के लिए b.ed कोर्स करना अनिवार्य होता है।

Q. क्या B.Ed कोर्स करने के लिए कोई उम्र सीमा निर्धारित है?

सामान्यता B.Ed कोर्स करने के लिए कोई भी उम्र सीमा नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.