सभी व्यक्तियों के कुछ न कुछ सपने होते है कोई डॉक्टर बनना चाहता है तो कोई वकील और कोई टीचर ।क्या आपका भी सपना मेकैनिकल इंजिनियर बनने का है?यदि हां या आप मैकेनिकल इंजीनियर बनने के बारे में जानकारी चाहते है तो यह पोस्ट आपके लिए ही है।

आपको जान के यह खुशी होगी की मेने भी मैकेनिकल इंजीनियरिंग में Pusa Institute of Technology (New Delhi) से डिप्लोमा किया हुआ है।

नमस्कार दोस्तो आज इस पोस्ट में जानेंगे की Mechanical Engineer Kaise bane, Mechanical Engineering में स्कोप क्या है ?, मैकेनिकल इंजीनियर का वेतन और कॉलेज फ़ीस कितनी होती है ? इस पोस्ट Mechanical Engineer Kaise Bane पढ़ने के बाद मैकेनिकल इंजीनियरिंग के क्षेत्र में करियर कैसे बनाये से जुड़े हुए आपके सभी संदहे दूर हो जायेंगे ।

आप दसवीं कक्षा के बाद मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा कर सकते हैं या आप 12 वीं कक्षा के बाद मैकेनिकल इंजीनियरिंग में बी.टेक की डिग्री हासिल कर सकते हैं। इस तरह आप मैकेनिकल इंजीनियर बनने के अपने सपने को पूरा कर सकते हैं।

आइए स्टेप बाय स्टेप समझते हैं कि मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बनें,लेकिन इससे पहले जानते है की एक मैकेनिकल इंजीनियर क्या होता है और मैकेनिकल इंजीनियरिंग में क्या भविष्य बनाना ठीक रहेगा या नहीं ?

विषय सूची

मैकेनिकल इंजीनियरिंग क्या है?

मैकेनिकल इंजीनियरिंग में मैकेनिकल और थर्मल सेंसर और उपकरणों, जैसे उपकरण, इंजन और मशीनों के अनुसंधान, विकास, निर्माण और परीक्षण शामिल हैं।

मैकेनिकल इंजीनियरों के लिए इंजीनियरिंग सेवाएं, अनुसंधान और विकास और विनिर्माण सबसे आम नौकरियां हैं।

मैकेनिकल इंजीनियरिंग क्यों चुने?

देखिए अगर आपका इंटरेस्ट मशीनों में है तो यह ब्रांच आपके लिए ही बनी है। जैसा की आप उपर देख चुके है की एक मैकेनिकल इंजीनियर क्या क्या करता है।

किसी देश के अंदर मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर की जरूरत हमेशा रहती है इस कारण से मैकेनिकल इंजीनियर की आवस्यक्ता बनी रहती है। मैकेनिकल इंजीनियर का कार्य नयी मशीनो को विकसित करना और किसी मशीन में आने वाली समस्या को दूर करना होता है।अब आप समझ गए होंगे की मैकेनिकल इंजीनियर क्यों बने ? हमें कमैंट्स में जरूर बातये की आप एक मैकेनिकल इंजीनियर क्यों बनना चाहते है ?

तो इस फील्ड में अगर आप डिप्लोमा करते है तो आपकी स्टार्टिंग सैलरी 15K-30K प्रति माह तक होती है।

लेकिन अगर आप बीटेक कर चुके है तब आपकी औसतन सैलरी 20-50K प्रति माह तक पहुंच जाती है। जैसे आपका एक्सपीरियंस बढ़ता है उसी के साथ सैलरी भी बढ़ जाती है।

मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बने(Mechanical Engineer kaise bane ?)

अभी तक आप जान चुके हैं कि मैकेनिकल इंजीनियर क्या कार्य करता है तथा उसकी क्या जिम्मेदारियां होती हैं एक मैकेनिकल इंजीनियर की क्यों आवश्यकता है तथा मैकेनिकल इंजीनियरिंग में भविष्य कैसा होने वाला है यह सब आप देख चुके हैं। चलिए हम जानते हैं कि किस तरह से आप एक मैकेनिकल इंजीनियर बनेगे ।

10वीं के बाद मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बने ?

दसवीं कक्षा के बाद भी आप एक मैकेनिकल इंजीनियर बन सकते हैं यदि आपका सपना जल्दी से एक मैकेनिकल इंजीनियर बनने का है तो आप दसवीं कक्षा के बाद आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा कर सकते हैं। डिप्लोमा करने के लिए राज्य स्तर के प्रवेश परीक्षा होती हैं । आप अपने राज्य के अनुसार पॉलिटेक्निक कॉलेजों में एडमिशन प्राप्त कर सकते हैं । दसवीं कक्षा के बाद डिप्लोमा 3 वर्ष का होता है लेकिन यदि आप बारवीं कक्षा के बाद लेटरलएंट्री(Lateral Entery) के द्वारा डिप्लोमा में एडमिशन लेते हैं तब आपके डिप्लोमा कोर्स की अवधि 2 वर्ष हो जाती है।

12वीं के बाद मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बने?

बारहवीं कक्षा के बाद आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग में बी.टेक (B.tech) कर सकते हैं।दसवीं कक्षा के बाद आपको साइंस स्ट्रीम लेनी आवश्यक होती है। दसवीं कक्षा के बाद से ही आप जॉइंट एंट्रेंस एग्जाम(JEE Main) की तैयारी करना शुरू कर दें। 12वीं पास होने के बाद आप JEE Main का फॉर्म भरे । JEE की परीक्षा में बैठे हैं । JEE परीक्षा में पास होने के बाद आप JEE Advance की परीक्षा भी दे सकते हैं, परीक्षा में सफल होने के बाद आप भारत के जाने-माने कॉलेज आईआईटी(IITs) में एडमिशन प्राप्त कर सकते हैं,यदि आप JEE एडवांस की परीक्षा नहीं देना चाहते हैं तब भी आप JEE रिजल्ट के आधार पर बीटेक के कॉलेजों में एडमिशन ले सकते हैं।

JEE Main & JEE Advance परीक्षा NTA द्वारा आयोजित कि जाती है। आप JEE Main के रजिस्ट्रेशन के लिए यह स्टेप्स को फॉलो करे

  • NTA की वेबसाइट पर एप्लीकेशन की डेट चेक करें
  • रजिस्ट्रेशन कराएं।
  • उसके साथ ही आप एप्लीकेशन फॉर्म भी भरें।
  • पेमेंट करें।
  • अपनी स्लिप प्रिंट आउट करें।

आप अपने एडमिट कार्ड के लिए NTA की वेबसाइट को देखते रहे।

बिना JEE प्रवेश परीक्षा दिए मैकेनिकल इंजीनियर कैसे बने ?

भारत में JEE परीक्षा सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन लेने के लिए होते हो तथा JEE Advance भारत के सबसे अच्छे इंजीनियरिंग कॉलेजो आईटीआई(IITs,NITs) में एडमिशन के लिए होती है। यदि आप इस परीक्षा की तैयारी नहीं करना चाहते हैं तो आप प्राइवेट संस्थानों से बीटेक या डिप्लोमा कर सकते हैं, लेकिन आपके पास इतना बजट नहीं है कि जब आप प्राइवेट कॉलेज से बीटेक या डिप्लोमा कर सकते हैं तब आप JEE की तरफ जाएं या फिर आप डिप्लोमा भी कर सकते हैं। आपको नीचे लेख में बताया गया है कि किस तरह से कम बजट में आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग में बी.टेक कर सकते है।

मैकेनिकल इंजिनियरिंग फीस

मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डीप्लोमा की फीस

डिप्लोमा की फीस हर राज्य और हर यूनिवर्सिटी की अलग-अलग होती है लेकिन मैं आपको एक अनुमानित फीस बता रहा हूं यह 10000 से लेकर 20000 प्रतिवर्ष के बीच में होती है।

मैकेनिकल इंजीनियरिंग में बी.टेक की फीस

सरकारी कॉलेजों की फीस 1- 1.5 लाख तक की होती है वहीं प्राइवेट कॉलेजों की फीस भी इनसे ज्यादा होती है वह करीबन 1 से लेकर 3 लाख प्रतिवर्ष होती है यह हर हर राज्य और हर अलग-अलग यूनिवर्सिटी की फीस अलग हो सकती है क्योंकि यहां पर मैं आपको एक अनुमानित फीस दे रहा हूं।

कम पैसों में मैकेनिकल इंजिनियर कैसे बनें ?

देखिए यदि आपको लगता है कि आप बीटेक की फीस का बोझ नहीं उठा सकते तो आप इंजीनियर कैसे बनेंगे

यदि आपके पास इतना ज्यादा पैसा नहीं है तब भी आप इंजीनियर बन सकते हैं।

आप इंजीनियरिंग में डिप्लोमा कर सकते हैं और आप भी एक इंजीनियर बन सकते हैं। डिप्लोमा इंजीनियरिंग के मुकाबले काफी कम पैसों में हो जाती है। डिप्लोमा करने के बाद आप लैटरल एंट्री के द्वारा किसी भी तक कॉलेज में एडमिशन प्राप्त कर सकते हैं या फिर आपने डिप्लोमा के बाद कोई नौकरी प्राप्त कर सकते हैं नौकरी के साथ-साथ भी आप भी टाइप कर सकते हैं। भारत में कुछ कंपनियां ऐसे भी होते हैं जो आपको नौकरी के साथ साथ बैठक करने का अवसर भी प्रदान करते हैं।

मै आर्ट्स का स्टूडेंट हु क्या में मैकेनिकल इंजीनियर बन सकता हु ?

अगर में आपसे कहु की आप आर्ट्स से है तब भी एक इंजीनियर बन सकते है अब आप बोलेंगे क्या मजाक कर रहे हो लेकिन ऐसा नहीं है।
जब आप आर्ट्स से पढ़ाई करते और बाद में एक इंजीनियर बनना चाहते है ऐसा संभव है।
आप के बाद डिप्लोमा करे उसके बाद आप डिप्लोमा के आधार पर मैकेनिकल इंजीनियरिंग में कर सकते है इस प्रकार आप मैकेनिकल इंजीनियर बन जायेंगे।

*NOTE* लेकिन इस प्रकार से इंजीनियर बनने में आपको अधिक वर्ष लग जाते है। शुरुआती समय में आपको Math & Physics समझने में समस्या हो सकती है।

मैकेनिकल इंजीनियर टॉप कॉलेज

चलिए अब जानते है भारत के टॉप कॉलेज फॉर मैकेनिकल इंजीनियरिंग

  • IIT Bombay
  • IIT Madras
  • IIT Delhi
  • All IITs
  • All NITs
  • IIIT
  • Delhi Technical University
  • Jamia Millia Islamia
  • Chandigarh University
  • Sardar Vallabhbhai National Institute of Technology, Surat

इन सभी कॉलेज के अलावा भी कई अन्य अच्छे कॉलेज आपके शहर में मौजूद है।

मैकेनिकल इंजीनियरिंग के बाद क्या करे

अपने मैकेनिकल इंजीनियरिंग पूरी होने के बाद आप चाहे तो जॉब कर सकते हैं या फिर आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग में उच्त्तर शिक्षा की पढ़ाई कर सकते है।उच्त्तर शिक्षा में आप M.Tech कर सकते है। जो की आपको मैकेनिकल इंजीनियरिंग में मास्टरी प्रदान कराती है। इसके बाद आप कॉलेज में प्रोफेसर /लेक्चर बन सकते है।इसके साथ ही जब आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग में M.Tech कर लेते है तो आप रिसर्च एंड डेवलपमेंट में करियर बना सकते है।

मैकेनिकल इंजीनियर भर्तीकर्ता

आप मैकेनिकल इंजीनियर करने के बाद जॉब कहां-कहां कर सकते हैं।

मैकेनिकल इंजीनियर इंजीनियरों की जरूरत प्राइवेट से लेकर गवर्नमेंट सेक्टर में बनी रहती है। भारत में मैकेनिकल इंजीनियर के भर्तीकर्ता कुछ इस प्रकार है

  • भारतीय रेलवे
  • DRDO
  • इसरो(ISRO)
  • थर्मल पावर प्लांट
  • महिंद्रा
  • टाटा ऑटोमोबाइल
  • मारुति सुजुकी
  • Blue Star
  • Daikin
  • मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों में

ऐसी ही कई अन्य कंपनियां हैं जिनमें आप कार्य कर सकते हैं।

इन सभी कंपनियों में आपके डिग्री और डिप्लोमा के हिसाब से जॉब जाती हैं। यदि आपने डिप्लोमा किया है तो आपको जूनियर इंजीनियर की पोस्ट मिलती है और यदि आपने बीटेक किया है तो आपको सीनियर इंजीनियर का पद मिलता है।

जैसा की आपने इस पोस्ट से जाना है की इंजिनियर बनने के लिए आप डिप्लोमा या डिग्री दोनो में से कुछ भी कर सकते है। डिप्लोमा करने से आप जूनियर इंजिनियर बनते है और डिग्री से आप सीनियर इंजीनियर बनेंगे।

मैकेनिकल इंजीनियर Salary

अभी तक आपने सोच लिया होगा की आप किस कॉलेज से मैकेनिकल इंजीनियरिंग करेंगे ? अब हम अपने लेख में आगे बढ़ते है और जानते है की भारत में यदि आपने मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा/डिग्री की है तो आपकी शुरुआती वेतन/सैलरी कितनी होगी ?

मैकेनिकल इंजीनियर Diploma Salary

यदि आपने किसी अच्छे कॉलेज से पॉलिटेक्निक या डिप्लोमा किया है तो आपकी अनुमानित वेतन 2.3 लाख रुपए प्रति वर्ष से 4.1 लाख रुपए प्रति वर्ष तक हो सकती है,यह आपका शुरुआती वेतन होगा और आपके अनुभव के अनुसार आपकी तरक्की होती है।

मैकेनिकल इंजीनियर Degree Salary

यदि आपने किसी अच्छे कॉलेज से पॉलिटेक्निक या डिप्लोमा किया है तो आपकी अनुमानित वेतन 3.5 लाख रुपए प्रति वर्ष से 4.7 लाख रुपए प्रति वर्ष तक हो सकती है,यह आपका शुरुआती वेतन होगा और आपके अनुभव के अनुसार आपकी तरक्की होती है।

NOTE:यह वेतन अनुमानित वेतन है ,अगर आपको लगता है की सिर्फ डिग्री/डिप्लोमा करने से नौकरी मिल जाएगी तो मैं आपको बताना चहूंगा ,आप अपने डिग्री /डिप्लोमा के दौरान सीखे गए कौशलों(Skills) पर अधिक ध्यान दे। अपने कोर्स के दौरान नए नए कौशल सीखे ।यह सीखे गए कौशल आपको नौकरी दिलवाने में सबसे ज्यादा मददगार साबित होंगे। इसके साथ साथ आप अपनी इंग्लिश भाषा ,कम्युनिकेशन स्किल्स को भी अच्छा करे।

निष्कर्ष

आपने इस लेख में जाना की आप किस तरह आप मैकेनिकल इंजीनियर बनने के सपने को पूरा कर सकते है।मैकेनिकल इंजीनियरिंग का भविष्य में क्या स्कोप है , मैकेनिकल इंजीनियर बनने के बाद आपकी सैलरी कितनी होगी ?प्रमुख मैकेनिकल इंजीनियर के भर्तीकर्ता कौन है? आपको यह लेख कैसा लगा हमें कमैंट्स सेक्शन में बातये यदि आपको कुछ मैकेनिकल इंजीनियरिंग से सम्बन्धित अन्य कोई सवाल रह गया है तो आप कमैंट्स में पूछ सकते है।

FAQs

  1. Q. क्या आर्ट्स का स्टूडेंट मैकेनिकल इंजीनियर बन सकता है?

    नहीं क्योंकि 12th में आप साइंस स्ट्रीम से पास होना चाहिए, यदि आप सुरु से ही इंजीनियर बनना कहते है तो आप दसवीं के बाद साइंस स्ट्रीम ले ।

  2. Q.मैं इंजीनियर बनना चाहता हु लेकिन मेने आर्ट्स/कॉमर्स से 12कक्षा की हुई है ?

    देखिये यदि आपने आर्ट्स/कॉमर्स से 12 की हुई है तब भी आप एक दूसरे तरीके से इंजीनियर तो बन जायेंगे लेकिन इस तरीके में आपको अधिक मेहनत करनी होगी और यह रास्ता काफी लम्बा होगा और आपके कई वर्ष बेकार चले जायेंगे आपको डिप्लोमा करना होगा और डिप्लोमा के बाद आप B.tech की डिग्री में एडमिशन प्राप्त कर सकते है। डिप्लोमा में एडमिशन आपको 10 कक्षा के आधार पर लेना होगा जिससे आपका डिप्लोमा 3 वर्ष का होगा फिर उसके बाद आपको लेटरल एंट्री द्वारा किसी कॉलेज में एडमिशन लेना होगा।

  3. Q.लैटरल एंट्री द्वारा लिए गए एडमिशन में B.tech कोर्स कितने समय का हो जाता है ?

    लैटरल एंट्री द्वारा B.tech कोर्स 3 वर्ष का हो जाता है।

  4. Q.मैकेनिकल इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है ?

    मैकेनिकल इंजीनियर की सैलरी 3.5 लाख रुपए प्रति वर्ष से 4.7 लाख रुपए प्रति वर्ष तक होती है।

  5. Q.मैकेनिकल इंजीनियर बनना मुश्किल होता है ?

    मैकेनिकल इंजीनियर बनना मुश्किल नहीं होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.