“App Developer Kaise Bane”के बारे में क्या आप जानकारी चाहते है ? तो इस लेख को पूरा जरूर पढ़े।

आपने यह जरूर जानने की कोशिश की होगी की एप्लीकेशन कैसे बनाया जाता है और हो सकता है आपको एप्लीकेशन बनाने में अधिक रूचि आ गयी हो। क्या आप भी एक App डेवलपर बनना चाहते है ? इस लेख में हम “App Developer Kaise Bane ” के बारे में बात करेंगे।

यह लेख आप किसी ब्राउज़र के माध्यम से ही देख रहे होंगे।ब्राउज़र भी एक प्रकार के आप्लिकेशन्स होते है । क्या आप भी एक App डेवलपर बनने का सपना देख रहे हैं या फिर आप भी चाहते हैं कि मेरा खुद का भी एक ऐप हो जिसे लोग उपयोग में लाएं। हम जानेंगे कि किस तरह से आप “App Developement me career kaise banaye “. App डेवलपर बनने के लिए कौन से कोर्स करने होते हैं तथा इस एप डेवलपर बनने के लिए कौन से कॉलेज अच्छे है तथा इस कोर्स की फीस कितनी होती है।

एप डेवलपमेंट क्या है(What is App Development)

App को अप्लीकेशन कहते है और डेवलपमेंट का अर्थ होता है -विकास । किसी भी प्रकार के App को बनना व विकास करना जिसके माधयम से हमारा कार्य आसान होता है।आपने बहुत सारे एप्लीकेशन का उपयोग किया ही होगा । व्हाट्सएप ,फेसबुक, यूट्यूब ,बुकिंग एप्लीकेशन ,गेमिंग एप्लीकेशन यह सभी एप्लीकेशन के अंतर्गत है।एप्लीकेशन अलग-अलग प्रकार की होती है।यह सभी App, App डेवलपर द्वारा बनायीं जाती है।

एप डेवलपमेंट स्कोप

टेक्नोलॉजी व इंटरनेट का विकास हो रहा है ।इंटरनेट और इंटरनेट पर यूजर आने वाले समय में बढ़ते ही जा रहे हैं। आज के समय में हमारा अधिकतर कार्य ऑनलाइन होने लगा है जो चाहे वह टिकट बुकिंग, मनी ट्रांसफर या फिर ऑनलाइन पढ़ाई की बातें यह सभी एक ऐप के माध्यम से ही संभव हो पाते है।

भारत व दुनिया भर में प्रति वर्ष मोबाइल की संख्या बढ़ती जा रही है। जिसके चलते App डेवेलोपेरो की मार्किट में भारी डिमांड में भारी मांग आयी है जाहिर सी बात है आने वाले समय में एप डेवलपमेंट का फ्यूचर काफी ब्राइट साबित होगा।। App डेवलपमेंट भविष्य में कैरियर का एक अच्छा विकल्प साबित होगा।

एप डेवलपर के प्रकार

App डेवलपर के मुख्य दो प्रकार होते हैं एनरोइड डेवलपर & ios डेवलपर। आप दोनों में से किसी एक के स्पेस्लिस्ट डेवलपर बन सकते है।

  1. Android Application Developers
  2. iOS Application Developer

भारत में 96% एंड्रॉयड मार्केट है तथा 3% iOS मार्किट। एंड्राइड फ़ोन सस्ते होते है और इसी के चलते एंड्राइड फ़ोन के ज्यादा यूजर है। मार्किट में एंड्राइड डेवेलोपेरो की मांग ज्यादा है।

“App Developer Kaise Bane “

एप डेवलपर बनने के लिए आप 12th कक्षा के बाद कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग(CSE) कर सकते हैं या फिर आप BCA कोर्स के माध्यम से भी एक App डेवलपर बन सकते है।अगर आपने 12th कक्षा में साइंस नहीं ली थी लेकिन आपने मैथ्स(Math) सब्जेक्ट के साथ कक्षा पास की हुई है तो आप कोर्स के माध्यम से डेवलपर बन सकते है।

App डेवलपर बनने के लिए आपके पास कम से कम यह सभी स्किल्स होनी चाहिए जो कि मैं अपने नीचे बता रहा हूं।आप Coding में निपुण होनी चाहिए।

एंड्रॉयड डेवलपर Skills

Android एप्लिकेशन डेवलपर बनने के लिए आपको निम्नलिखित कोडिंग भाषाएँ सीखनी होंगी । अधिकतर एंड्राइड आप्लिकेशन्स डेवलपमेंट में जावा(Java) का ही प्रयोग किया जाता है। लेकिन आज के समय में जावा लैंग्वेज की जगह Kotlin कोडिंग लैंग्वेज लेती जा रही है।

  • Java
  • Kotlin
  • C++
  • C#
  • Python.
  • HTML, CSS, JavaScript
  • Dart

iOS Application डेवलपर Skills

  • Flutter
  • Swift
  • HTML5
  • CSS3
  • Appcode
  • Testflight
  • Python
  • Objective C
  • Xcode

कॉलेज

आप कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग या BCA कोर्स नीचे लिखे कॉलेज से कर सकते है यह कुछ मुख्य कॉलेज है जो भारत में काफी मशहूर है इनके अलावा आप आपने राज्य में उपलब्ध कॉलेज से भी कोर्स कर सकते है

  • आईआईटी दिल्ली
  • आईआईटी, मद्रास
  • आईआईटी बॉम्बे
  • आईआईटी, खड़गपुर
  • आईआईटी रुड़की
  • IIT कानपुर
  • आईआईटी हैदराबाद
  • आईआईटी गुवाहाटी
  • जादवपुर विश्वविद्यालय, कोलकाता
  • अन्ना विश्वविद्यालय, चेन्नई
  • दिल्ली कॉलेज ऑफ़ एंड्रॉइड ऐप डेवलपमेंट
  • बिट्स पिलानी
  • वीआईटी वेल्लोर
  • एनआईटी
  • अंतर्राष्ट्रीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान, हैदराबाद
  • पंजाब विश्वविद्यालय
  • बनारस हिंदू विश्वविद्यालयइंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय
  • कोचीन विश्वविद्यालय
  • दिल्ली विश्वविद्यालय
  • अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय
  • पुणे कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग
  • मणिपाल विश्वविद्यालय
  • गुजरात विश्वविद्यालय
  • नाइलिट चंडीगढ़
  • टेक एप्स इंडिया
  • अपटेक कंप्यूटर शिक्षा, मुंबई

कोर्स फीस

इस कोर्स की फीस आपके द्वारा चुने गए कोर्स पर निर्भर करती है यदि आप इंजीनियरिंग कोर्स के माध्यम से App डेवलपर बनते है तो आपकी फीस 80 हजार से लेकर ₹2,00,000 प्रति वर्ष तक होती है।यदि आप बीसीए(BCA) के माध्यम से एक एप डेवलपर बनना चाहते हैं तब BCA कोर्स की फीस 10,000 से लेकर ₹2, लाख रुपए प्रति वर्ष तक हो सकती है।

प्रमुख भर्तीकर्ता

जब आप अपनी एप डेवलपमेंट की आवश्यक स्किल्स को सिखने के बाद। उसके बाद आपने निम्नलिखत कंपनियों में कार्य कर सकते हैं बताओ यह कंपनी एप डेवलपर को नौकरी प्रदान।

  • हाइपरलिंक इन्फोसिस्टम।
  • डैफोडिल सॉफ्टवेयर
  • एमट्रैक्शन एंटरप्राइज
  • संज्ञानात्मक बादल
  • टेकहेड
  • रोबोसॉफ्ट टेक्नोलॉजीज।

App डेवलपर सैलरी

भारत में App डेवलपर की शुरुआती वेतन ₹3,00,000 प्रति वर्ष से लेकर ₹3.7 लाख प्रति वर्ष तक होती है। शुरुआती समय में आपके पास कम एक्सपीरियंस होने की वजह से आपको कम वेतन दिया जाता है। जब आप 4 से 5 वर्ष का अनुभव प्राप्त कर लेते हैं तो आप की वार्षिक आय 5 से ₹6 लाख प्रति वर्ष तक हो जाती है।

आपने क्या जाना

आपने इस लेख में जान की किस प्रकार आप आप्लिकेशन डेवलपर बन सकते है।आपको अगर आपका कोई सवाल है तो आप कमेंट सेक्शन में जरूर पूछे। हमें यह भी बातये की आप आप्लिकेशन डेवलपर बनने के लिए किस रस्ते को चुनेगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.